2,000 रुपये के नोट को वापस लेने की कोई योजना नहीं : Thakur

HNU Tue, Mar 17, 2020, 05:28 PM IANS

केंद्र सरकार द्वारा उच्च मूल्य के नोटों को सर्कुलेशन से नियंत्रित तरीके से वापस लेने की अटकलों के बीच केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा है कि सरकार का 2000 रुपये के नोटों को वापस लेने की कोई योजना नहीं है। लोकसभा में एक लिखित उत्तर में मंत्री ने कहा कि 500 रुपये और 200 रुपये मूल्यवर्ग के बैंक नोटों के अत्यधिक प्रचलन के मद्देनजर भारतीय स्टेट बैंक ने उक्त मूल्यवर्ग के नोटों के लिए एटीएम को फिर से कन्फिगर करने के लिए अपने स्थानीय प्रधान कार्यालयों को सूचना जारी की है।

पिछले कुछ महीनों से बाजार में 2000 रुपये के नोटों की कम संख्या की वजह से अटकलें लगाई जा रही थीं कि सरकार इसे प्रचलन से बाहर करने की योजना बना रही है।

ठाकुर ने कहा कि 2,000 रुपये के नोट का चेंज प्राप्त करना एक समस्या बन रही है, ऐसे में एसबीआई और इंडियन बैंक ने अपने एटीएम में कम मूल्य वर्ग के 500 रुपये व 200 रुपये के नोटों के लिए बदलाव करने का फैसला किया है।

उन्होंने स्पष्ट किया कि नोटों की छपाई सरकार द्वारा आरबीआई की सलाह पर की जाती है।